सोमवार, 21 अक्तूबर 2013

राख तो एक दिन होना है



ये जीवन तो जीवन भर का रोना है
इस सोने जैसी काया को तो
राख तो एक दिन होना है...
अभिमान भला फिर कैसा है
सब कुछ रहता पडा यहीं
चलता जगत ज्यूं जैसे का जैसा है ।।
कोई चोरी-बइमानी में उलझा
जीवन रह जाता अनसुलझा
यही तो कारण है इस जग में
कहीं बाढ,कहीं सूखा है;
प्रण करो ऐ देश प्रेमियों
हमें अन्त्रमन को धोना है
इस सोने जैसी काया को तो
राख तो एक दिन होना है ।।

कुछ और ही होगा



न हिन्दू न कोई मुसलमान है
जिसमें नहीं है प्यार-मुहब्बत
कुछ और ही होगा ...
मगर नहीं वो कोई इन्सान है ।।
लहू जो बहता है रगों में
अगर नहीं सुर्ख सफेद है
उसी मू्र्ख के हृदय में
रहता ऊँच-नीच का भेद है
खुद को इन्सान कहते हैं
बस इसी बात का खेद है ।।
पल दो पल का जीवन है
ये जीवन बना संग्राम है
जिसमें नहीं है प्यार-मुहब्बत
कुछ और ही होगा
मगर नहीं वो कोई इन्सान है ।।
 
                     

शनिवार, 5 अक्तूबर 2013

ज़रा जल्दी से उपचार करो

प्रभू रोको चित की चंचलता
मेरा भी उद्दार करो
कभी बुरा न निकले मुंह से मेरे
तनिक इतना हो उपकार करो ।।

दुनिया के इस जंगल में
दिखते इन्साँ मुझ को कम
अमीर, गरीब का हिस्सा खा रहा
क्यों दुनिया का दिल हो रहा तंग
प्रभू न हमको यूं लाचार करो  ।।

बिगडी हुई इस बुद्धि का
ज़रा जल्दी से उपचार करो
प्रभू रोको चित की चंचलता
मेरा भी उद्दार करो ।।


                  सुशील कुमार पटियाल

आपसी तकरार से

न तीर से न तलवार से
इन्सां तो देखो मर रहा
केवल आपसी तकरार से ।।
खुश होता है,
किसी को दुख में देख के
मिलता सुख उसे,
किसी का गला रेत के
सुख दुख बाँटना भूल गया
बात न होती, बिन हथियार से
न तीर से न तलवार से
इन्सां तो देखो मर रहा
केवल आपसी तकरार से ।।
प्रेम प्यार अब जिस्मानी हो गया
सच्चा प्रेम अब लुप्त हो गया
मेहनत से जी चुराता है
तन मन से यूँ सुस्त हो गया
कुछ न करता,
बस बैठे हो के लाचार से
न तीर से न तलवार से
इन्सां तो देखो मर रहा
केवल आपसी तकरार से ।।



        
                                   सुशील कुमार पटियाल
 

मंगलवार, 1 अक्तूबर 2013

चोर - चोर मोसेरे भाई



चोर - चोर मोसेरे भाई
बचा जो इनसे
ले गया जमाई
खत्म हो रहा देखो खज़ाना
जनता बैठी मारे जम्हाई ।।
राम रहीम पे लडाते हैं
सब मेवा मिलकर खाते है
गरीब के हिस्से में तन्हाई
चोर - चोर मोसेरे भाई
बचा जो इनसे
ले गया जमाई ।।



सुशील कुमार पटियाल

Thanks for loving me

Thanks for loving me

Bye bye dear

Bye bye dear