सोमवार, 8 दिसंबर 2008

आतंकबाद को किसने ......?

आतंकबाद को किसने पाला
किसने किया मुंह देश का काला
साधू है कोई या -
है कोई लाला
आतंकबाद को किसने पाला ।।
नेताओं की सुरक्षा चाहिए
आम इंसां का मोल नहीं
तुम मानो या मानो न
क्या इसमें नेताओं का रोल नहीं
दिखते हैं जो सीधे - सच्चे
डाका देश में उन्होंने डाला
आतंकबाद को किसने पाला ।।

सुशील कुमार पटियाल ,हमीरपुर (हिमाचल प्रदेश)

Published in Navbharat Times (Online) on December 4, 2008

Thanks for loving me

Thanks for loving me

Bye bye dear

Bye bye dear